अनुशासन के दिप जलाएं, जीवन में सफलता पाएं

“अनुशासन ही अपने जीवन के उद्देश्य और उपलब्धि के बीच का सेतु है।”

अनुशासन अर्थात् अनुशास्यते नैन। इसका अर्थ है – स्वयं का स्वयं पर शासन। ‘अनुशासन’ शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है। अनु+शासन यानि अपने ऊपर स्वयं शासन करना तथा शासन के अनुसार अपने जीवन को चलाना ही अनुशासन है। जो इंसान अनुशासन में नहीं रह सकता वह अपने जीवन का निर्माण कभी नहीं कर सकता।